Pharmacy Website
Clinic Website
TabletWise.com TabletWise.com
 

मधुमेह और पैर की समस्याएं

स्वास्थ्य    Diabetes    मधुमेह और पैर की समस्याएं

मधुमेह वाले लोगों में पैर की समस्याएं आम बात है। आप चिंतित हो सकते हैं कि आप मधुमेह में पैर की अंगुली या पैर खो देंगे, लेकिन आप हर दिन अपने पैरों की देखभाल करके मधुमेह से संबंधित पैर की समस्याओं की संभावनाओं को कम कर सकते हैं। रक्त में ग्लूकोज के स्तर की संभाल करने से आपको अपने पैरों को स्वस्थ रखने में भी मदद मिल सकती है।

मधुमेह आपके पैरों को कैसे प्रभावित कर सकता है?

समय के साथ, मधुमेह तंत्रिका क्षति का कारण बन सकता है, जिसे मधुमेह संबंधी न्यूरोपैथी भी कहा जाता है, जो झनझनाहट और दर्द का कारण बन सकता है, जिससे आप अपने पैरों में कुछ महसूस नहीं कर पाएंगे।। जब आप अपने पैरों में कुछ महसूस नहीं करते, तो आप अपने पैर पर एक कंकड़ या अपने पैर पर छाला भी महसूस नहीं कर सकते, जो घाव और छाले का कारण बन सकता है। घाव और छाले बाद में संक्रमित हो सकते हैं।

मधुमेह आपके पैरों में रक्त प्रवाह की मात्रा को भी कम कर सकता है। आपकी टांगों और पैरों में पर्याप्त रक्त बहाव न होने से, आपके दर्द या संक्रमण का ठीक होने में मुश्किल हो सकती है। बुरा संक्रमण कभी-कभी ठीक नहीं होता। संक्रमण पैरों के गलने का कारण बन सकता है।

पैर का छाला और उनका गलना जो उपचार के साथ ठीक नहीं होता ऐसे में डॉक्टर आपके पैर, टांग या पैर के हिस्से को काट कर अलग कर सकते हैं। सर्जन ख़राब अंग से शरीर में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उसे काटकर आपकी जान बचा सकता है। गंभीर संक्रमण और पैर को गलने से रोकने के लिए उसकी देखभाल करना बहुत जरुरी है।

हालांकि कभी-कभी, मधुमेह में तंत्रिका क्षति से आपके पैरों के आकार में बदलाव हो सकता है, जैसे कि चारकोट पैर। (एक ऐसी स्थिति जिसमें पैर की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं) चारकोट पैर की शुरुआत पैरों के लाल होने, गर्म होने तथा सूजने से होती है। बाद में, आपके पैरों और पैर की उंगलियों में हड्डियां खिसक या टूट सकती हैं, जिससे आपके पैरों को एक अजीब आकार हो सकता है, जैसे कि "घुमावदार तल"।

समान विषय

संबंधित विषय


साइन अप